Tuesday, May 24

यूक्रेन संकट के बाद बढ़ती हुई मांग को देखकर,भारत ने गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से लगाया प्रतिबंध…

यूक्रेन संकट के बाद बढ़ती हुई मांग को देखकर,भारत ने गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से लगाया प्रतिबंध...
Spread the love

यूक्रेन संकट के बाद बढ़ती हुई मांग को देखकर,भारत ने गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से लगाया प्रतिबंध…

देश में गेंहूं की बढ़ती कीमतों को देखते हुए सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने गेंहू के तुरंत निर्यात पर बैन लगा दिया है। बढ़ते प्राइस को कंट्रोल करने के लिए सरकार ने यह फैसला लिया। विदेश व्यापार महानिदेशालय (DGFT) ने शुक्रवार शाम को एक आधिकारिक घोषणा कर सरकार के इस फैसले की जानकारी दी। हालांकि निर्यात के जिन ऑर्डर के लिए 13 मई से पहले लेटर ऑफ क्रेडिट जारी हो चुका है, उनका एक्सपोर्ट करने की अनुमति होगी। इंटरनेशनल मार्केट में गेहूं के दामों में बेहताशा तेजी आना आने की वजह से भारत सरकार ने गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। इसके एक्सपोर्ट को अब ‘प्रतिबंधित’ सामानों की कैटेगरी में डाल दिया गया है।

सरकार ने अपने आदेश में साफ किया है कि गेहूं का निर्यात उन देशों के लिए संभव होगा, जिनके लिए भारत सरकार अनुमति देगी। इस संबंध में सरकार जरूरतमंद विकासशील देशों की सरकार के आग्रह के आधार पर फैसला लेगी ताकि वहां भी खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित हो सके।

नोटिफिकेशन में कहा गया है, ‘ भारत सरकार देश में, पड़ोसी देश और अन्य विकासशील देशों को खाद्य सुरक्षा उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। खासकर के उन देशों को जहां ग्लोबल मार्केट में गेहूं की कीमतों में आए इस अचानक बदलाव का विपरीत असर हुआ है और वे गेहूं की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने में अक्षम हैं।’

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि रूस-यूक्रेन युद्ध के चलते वैश्विक बाजारों में गेहूं के दाम बहुत बढ़ गए हैं। रूस और यूक्रेन गेहूं के बड़े उत्पादक देश हैं और युद्ध की वजह से इन देशों से आपूर्ति बाधित हुई है। गेहूं की इंटरनेशनल मार्केट में कीमतें करीब 40% तक बढ़ चुकी हैं। वहीं घरेलू बाजार में भी गेहूं और आटा भी महंगा हुआ है।

एक जानकारी के मुताबिक पिछले साल के मुकाबले आटे की कीमत करीब 13 फीसदी बढ़ गई है। सरकारी आंकड़ों में यह बताया गया है. खुदरा बाजार में अब आटे की अधिकतम कीमत 59 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई है। खुदरा बाजारों में गेहूं के आटे की औसत कीमत सोमवार को 32.91 रुपये प्रति किलोग्राम थी, जो पिछले साल की समान अवधि की तुलना में लगभग 13 प्रतिशत अधिक है। सरकारी आंकड़ों में यह बताया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.